एलन मस्क का ईरान में फ्री इंटरनेट सेवा स्टारलिंक से लिंक करेंगे

Must Read


वाशिंगटन.
 स्पेसएक्स (SpaceX) के सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) ने कहा है कि वे ईरान में फ्री इंटरनेट सर्विस के लिए फर्म की सैटेलाइट इंटरनेट सेवा स्टारलिंक (Starlink) को सक्रिय करेंगे. मस्क का ये जवाब अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन के एक ट्वीट के जवाब में आया. जिसमें कहा गया कि ईरानियों के लिए फ्री इंटरनेट और सूचना के मुक्त प्रवाह को आगे बढ़ाने के लिए अमेरिका को कार्रवाई करनी चाहिए. ईरान में पुलिस हिरासत में एक 22 वर्षीय महिला की मौत के बाद वहां विरोध प्रदर्शन जारी हैं. इस बीच अमेरिकी वित्त विभाग ने ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों के बावजूद ईरानियों के लिए उपलब्ध इंटरनेट सेवाओं को बढ़ाने के लिए गाइडलाइंस जारी की.

न्यूज एजेंसी रायटर्स की एक खबर के मुताबिक वित्त विभाग के एक अधिकारी ने संवाददाताओं ने कहा कि स्टारलिंक के बारे में हमारी जानकारी यह है कि वे जो सेवा देते हैं वह वाणिज्यिक ग्रेड की होगी. और यह हार्डवेयर होगा जो सामान्य लाइसेंस में शामिल नहीं है. इसलिए इसके लिए उन्हें ट्रेजरी को लिखना होगा. जबकि अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि अगर स्पेसएक्स को यह लगता है कि ईरानियों को इंटरनेट सर्विस के लिए एक विशिष्ट लाइसेंस की जरूरत है, तो इसका स्वागत होगा और इसे प्राथमिकता दी जाएगी. विदेश विभाग के प्रवक्ता ने कहा कि अगर स्पेसएक्स यह कहता है कि उसकी गतिविधि पहले से ही अधिकृत है और उसके कोई सवाल हैं, तो भी उसका स्वागत है.

जबकि ईरान में काम करने के लिए स्टारलिंक की मंजूरी के बारे में टिप्पणी या स्पष्टीकरण के लिए मस्क तक मीडिया नहीं पहुंच सका है.गौरतलब है कि नैतिकता पुलिस ने हिजाब नहीं पहनने के कारण महसा अमिनी को गिरफ्तार किया था. जिसकी बाद में पुलिस हिरासत में मौत हो गई. ईरान में महसा अमिनी की मौत पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. बहरहाल एलन मस्क ने सोमवार को कहा था कि उनकी कंपनी ईरानियों को स्टारलिंक उपग्रह ब्रॉडबैंड सेवा प्रदान करना चाहती है. इससे पहले यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद जब वहां की इंटरेट सेवा बाधित हुई तो मस्क ने स्टारलिंक की इंटरनेट सेवा यूक्रेन में शुरू कर दी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

पंप स्टोरेज तकनीक से बिजली संयंत्र लगाने डीपीआर बनाएगा वैपकास, प्रदेश में पांच स्थानों पर हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट के विस्तृत परियोजना रिपोर्ट बनाने हुआ...

रायपुर, 29 नवंबर 2022। प्रदेश में 7700 मेगावाट के पांच पंप स्टोरेज हाइडल इलेक्ट्रिक प्लांट लगाने की विस्तृत परियोजना...

More Articles

joker ดาวน์โหลดufabet
Home
Install
E-Paper
Log-In