दलाई लामा बोले – तिब्बत का मुद्दा राजनीतिक नहीं बल्कि एक सच्‍चाई की बात

Must Read


धर्मशाला
तिब्बत का मुद्दा राजनीतिक नहीं बल्कि एक सच्चाई की बात है। अपने जीवन के 87वें वर्ष प्रवेश करने वाले दलाई लामा तिब्बत की आजादी को लेकर शांति पूर्ण ढंग से आगे हैं। अपनी जन्मतिथि पर दलाई लामा ने पुस्तकालय और अभिलेखागार का उद्घाटन किया। कार्यक्रम की शुरुआत नामग्याल मठ के चार भिक्षुओं द्वारा प्रार्थना पाठ के साथ हुई और बाद में दलाई लामा ने यहां सभा को संबोधित किया। दलाई लामा ने कहा कि तिब्बती मुद्दा न केवल एक राजनीतिक मुद्दा है बल्कि यह सच्चाई की बात है। हमारी एक परंपरा है जो मन की शांति के निर्माण पर केंद्रित है और इस वजह से लोग हमारे धर्म में रुचि ले रहे हैं। इसलिए तिब्बती धर्म और सांस्कृतिक मुख्य रूप से लोगों के लिए फायदेमंद है।

मुख्यमंत्री ने दलाई लामा को जन्मदिन दिवस की शुभकामनाएं दी
तिब्बती धर्मगुरू दलाई लामा के जन्म तिथि पर कांगड़ा जिला के धर्मशाला में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर शिमला से वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। धर्मशाला में आयोजित दलाई लामा के जन्मदिन समारोह में मुख्यमंत्री का व्यक्तिगत रूप से शामिल होने का पूर्व निधारित कार्यक्रम था, लेेकिन प्रतिकूल मौसम के कारण इस तय कार्यक्रम में वह वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए। उन्होंने परम पावन दलाई लामा से दूरभाष के माध्यम से बातचीत की और उन्हें जन्मदिवस की शुभकामनाएं दी तथा उनके उत्तम स्वास्थ्य एवं दीर्घ आयु की कामना की।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि दलाई लामा मानवता और अध्यात्म को लेकर जिस ऊर्जा और समर्पण के साथ कार्य कर रहे हैं, वह भावी पीढ़ियों के लिए प्रेरणादायक है। उन्होंने कहा कि दलाई लामा का सम्पूर्ण जीवन मानवता, शान्ति और अहिंसा के लिए समर्पित है। उन्होंने तिब्बत के लोगों की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित किया है। उन्होंने कहा कि आज धर्मशाला को बौद्ध धर्म की पवित्र नगरी और दलाई लामा के घर के रूप में जाना जाता है। यह शहर पूरी दुनिया के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। जय राम ठाकुर ने कहा कि कोरोना काल में जब लोगों के मन में वैक्सीन लगाने को लेकर कई तरह के भ्रम थे, उस समय दलाई लामा जी ने स्वयं वैक्सीन लगवाकर इन भ्रान्तियों को दूर करने का कार्य किया और लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए प्रेरित किया। मुख्यमंत्री ने लोगों से दलाई लामा के विचारों को अपने जीवन में अपनाने का आह्वान करते हुए पूरी मानवता के कल्याण के लिए कार्य करने का आग्रह किया। इस अवसर पर मैक्लोडगंज के मुख्य मंदिर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान सरकार की ओर से वन मंंत्री राकेश पठानिया ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

रिचर्ड गेयर भी पहुंचे मैक्लोडगंज
हालीवुड अभिनेता रिचर्ड गेयर दलाई लामा के जन्मतिथि आयोजन को लेकर मैक्लोडगंज में पहुंचे उन्होने मुख्य मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में भाग लिया। रिचर्ड गेयर दलाई लामा के काफी समय से अनुयायी रहे हैं। काफी समय के बाद रिचर्ड गेयर धर्मशाला के मैक्लालाेडगंज में आए थे। और वह मुख्य बौद्ध मंदिर में कार्यक्रम में शामिल रहे।

रिचर्ड सहित पेंपा शिरिंग व वन मंत्री ने काटा केक
मुख्य बौद्ध मंदिर में वन मंत्री राकेश पठानिया, निर्वासित तिब्बत सरकार के प्रधानमंत्री व रिचर्ड गेयर ने केक काटकर दलाई लामा को जन्मतिथि की बधाई दी। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

पंप स्टोरेज तकनीक से बिजली संयंत्र लगाने डीपीआर बनाएगा वैपकास, प्रदेश में पांच स्थानों पर हाइड्रो इलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट के विस्तृत परियोजना रिपोर्ट बनाने हुआ...

रायपुर, 29 नवंबर 2022। प्रदेश में 7700 मेगावाट के पांच पंप स्टोरेज हाइडल इलेक्ट्रिक प्लांट लगाने की विस्तृत परियोजना...

More Articles

joker ดาวน์โหลดufabet
Home
Install
E-Paper
Log-In