महारानी एलिजाबेथ का अंतिम संस्कार कैसे होगा जानें, उनकी याद में 96 मिनट तक बजाई जाएगी घंटी

Must Read


लंदन
ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का आज पूरे राजकीय सम्मान के साथ वेस्टमिंस्टर ऐब्बी में अंतिम संस्कार किया जाएगा। महारानी का अंतिम संस्कार लंदन के समयानुसार सुबह 11 बजे और भारतीय समयानुसार लगभग शाम 4 बजे होगा। इस दौरान, महारानी के लंबे जीवन को याद करते हुए, लगातार 96 मिनट तक घंटी बजाई जाएगी।

महारानी के अंतिम संस्कार कार्यक्रम में विभिन्न देशों के 500 से अधिक प्रतिनिधि शामिल हुए हैं। उनकी अंतिम विदाई शाही परंपरा के मुताबिक की जाएगी। ब्रिटेन में शाही परिवार को अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए महारानी के अंतिम संस्कार को पूरे देश में प्रदर्शित किया जाएगा। इसके लिए पूरे ब्रिटेन में जगह-जगह बड़े पर्दे लगाए गए हैं। इसके अलावा सिनेमाघरों, न्यूजचैनलों पर भी इसका लाइव प्रसारण किया जाएगा।

96 मिनट तक बजाई जाएगी घंटी
महारानी की याद में उनकी अंतिम विदाई के वक्त 96 मिनट तक घंटी बजाई जाएगी, क्योंकि महारानी की उम्र 96 वर्ष थी। ऐसा करना ब्रिटेन में शाही परंपरा है। महारानी एलिजाबेथ का अंतिम संस्कार के बाद ब्रिटेन के नए किंग चार्ल्स तृतीय पूरे देश में एक सप्ताह का सार्वजनिक शोक की घोषणा करेंगे। महारानी को वेस्टमिंस्टर ऐब्बी में अंतिम विदाई दी जाएगी, जहां शाही परिवार के सदस्यों की ताजपोशी होती आई है।

महारानी एलिजाबेथ की ताजपोशी भी वेस्टमिंस्टर ऐब्बी में ही हुई थी और ब्रिटेन में पहली बार राजपरिवार में ताजपोशी के कार्यक्रम को पूरी दुनिया में प्रसारित किया गया था। जानकारी के अनुसार, महारानी को दफनाने के दौरान पूरे देश में दो मिनट का मौन रखा जाएगा। इस दौरान देशभर में व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को बंद रखा जाएगा, ताकि उनके अंतिम संस्कार को सभी लोग देख सकें और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित कर सकें।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
बता दें कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय को किंग जॉर्ज पंचम मेमोरियल चैपल में उनके पति प्रिंस फिलिप के नजदीक दफनाया जाएगा। उनके अंतिम संस्कार के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं, 5000 से अधिक सैनिकों को चप्पे-चप्पे पर तैनात किया गया है। इसमें थल सेना, नौसेना और वायु सेना के जवान शामिल हैं। इसके साथ ही राष्ट्रमंडल देशों के 175 सुरक्षा बल भी तैनात किए गए हैं। महारानी की अंतिम यात्रा के दौरान 1000 जवान चैन बनाएंगे और 1650 जवान उनके साथ रहेंगे। इस अंतिम विदाई में विभिन्न देशों के 2000 से अधिक मेहमान शामिल होंगे।

विश्व के कई राजा होंगे शामिल
महारानी के अंतिम संस्कार में बेल्जियम के राजा फिलिप और रानी मथिल्डे, नीदरलैंड के राजा विलेम-अलेक्जेंडर और उनकी पत्नी, रानी मैक्सिमा, उनकी मां, पूर्व डच रानी राजकुमारी बीट्रिक्स के साथ और स्पेन के राजा फेलिप और रानी लेटिजिया, जापान के सम्राट नारुहितो और महारानी मासाको और भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक शामिल होंगे। इसके साथ ही विश्व के कई गणमान्य नेता भी इस कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं। महारानी का निधन 96 वर्ष की उम्र में 8 सितंबर को स्काटलैंड के बाल्मोरल कैसल में हो गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

PAK के साथ बातचीत करने से अमित शाह ने किया इनकार, बोले- नहीं बर्दाश्त करेंगे आतंकवाद

बारामूलाकेंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In