PM मोदी के जन्मदिन से गांधी जयंती तक BJP मनाएगी सेवा पखवाड़ा

Must Read


रायपुर
छत्तीसगढ़ में एक साल बाद होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने मतदाताओं तक पहुंचने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन पखवाड़े को नया अवसर बनाया है। 17 सितंबर से दो अक्टूबर तक भाजपा सेवा पखवाड़ा मनाने जा रही है। इसमें न सिर्फ स्वदेशी को लेकर आयोजन किया जाएगा, बल्कि महात्मा गांधी की जयंती पर खादी के कपड़ों की भाजपा नेता खरीदी भी करेंगे।

कोरोना काल में केंद्र सरकार के काम को जनता के बीच पहुंचाने के लिए भाजपा टीकाकरण केंद्र पहुंचेगी। साथ ही 24 सितंबर को पीएम मोदी को बधाई देते हुए समाज के प्रबुद्धजनों से पत्र लिखवाएंगे। भाजपा हर जिले में केंद्र सरकार के काम को लेकर प्रदर्शनी लगाएगी। प्रदेश में भाजपा पीएम मोदी के काम और उनके चेहरे को लेकर चुनाव मैदान में उतरने की तैयारी में है। ऐसे में सेवा पखवाड़े के माध्यम से भाजपा राजनीतिक बढ़त बनाने की जुगत में है।

सेवा पखवाड़ा के प्रदेश प्रभारी संजय श्रीवास्तव ने बताया कि सेवा पखवाड़े में सभी मोर्चा-प्रकोष्ठ के पदाधिकारी और कार्यकर्ता जुड़ेंगे। सभी पदाधिकारी सेवा से जुड़ा एक कार्य करेंगे। हम आंदोलन करते हैं, विरोध प्रदर्शन करते हैं, लेकिन यह थोड़ा भिन्न् है। पार्टी ने अनेक कार्यक्रम तय किए हैं, जिनके माध्यम से हम आम जन से सीधे तौर पर जुड़ेंगे। सेवा पखवाड़ा में केंद्र सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों तक पहुंचने की तैयारी है।

केंद्र सरकार के सहयोग से हर जिले में 75 अमृत सरोवर तैयार हो रहे हैं, जिसमें भाजपा कार्यकर्ता श्रमदान करेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जीवनी पर प्रदर्शनी और बुक स्टाल लगाया जाएगा। साथ ही जिला स्तर पर किसानों का सम्मान भी किया जाएगा।

सेवा पखवाड़ा भाजपा की एक नई राजनीतिक नौटंकी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि सेवा पखवाडा जनता की नहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सेवा का पखवाड़ा है। पीएम मोदी की चाटुकारिता में भाजपाई सेवा पखवाड़ा मना रहे हैं। केंद्र में सरकार आने के बाद पिछले आठ साल में भाजपा को महंगाई कम करके सेवा का अवसर मिला, लेकिन उसे पूरा नहीं किया। रोजगार उपलब्ध कराकर युवाओं का सेवा करने का मौका मिला है। वादा किया था कि समर्थन मूल्य किसानों को मिलेगा, 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी। चाहते तो इस दिशा में काम करके किसानों की सेवा करते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे करेंगे एक और खेला? उद्धव के सबसे भरोसेमंद छोड़ सकते हैं शिवसेना

 मुंबई।  महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In