खरीफ विपणन वर्ष 2022{-}23: समर्थन मूल्य पर धान का उपार्जन

Must Read


बेमेतरा
जिले के सेवा सहकारी समितियो में धान, उद्यानिकी एवं अन्य फसलों का पंजीयन प्रारंभ हो गया है। जिन किसानों ने खरीफ 2021 में सेवा सहकारी समितियों में धान के अतिरिक्त अन्य फसल का पंजीयन नही कराया था या ऐसे किसान जो इस वर्ष खरीफ 2022 में पहली बार धान एवं अन्य फसलें ले रहे है वे सभी किसान राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत् सेवा सहकारी समितियो में आवेदन देकर पंजीयन करवा सकते है। पंजीयन की अंतिम तिथी 31 अक्टूबर 2022 तय की गई है। खरीफ वर्ष 2021 में इस योजनांतर्गत कुल 58241 कृषकों के द्वारा  कुल 62604.74 हे. रकबे में पंजीयन कराया गया था।  

कृषि विभाग के उप संचालक ने बताया कि ऐसे किसान अपने क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों (ग्रामसेवक)/उद्यानिकी अधिकारियों के माध्यम से सेवा सहकारी समितियो में आवेदन पत्र के साथ ऋण पुस्तिका, आधारकार्ड एवं बैंक पासबुक की छायाप्रति जमा कर कृषि आदान सहायता राशि प्राप्त करने हेतु पंजीयन करवा सकते है।

जिन किसानों के द्वारा वर्तमान में राजीव गांधी किसान न्याय योजना में पंजीयन करवाया जा चुका है ऐसे पंजीकृत कृषक यदि अपने पंजीकृत जानकारी में पंजीकृत फसल, रकबे, आधारकार्ड, बैंक खाता विवरण एवं वारिसाना हक में कुछ सुधार करना चाहते हो तो वे आवेदन एवं संबंधित दस्तावेजों के साथ सेवा सहकारी समितियो में संपर्क कर अपनी पूर्व की जानकारी में सुधार करवा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे करेंगे एक और खेला? उद्धव के सबसे भरोसेमंद छोड़ सकते हैं शिवसेना

 मुंबई।  महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In