चीन का एजेंट Twitter में काम कर रहा, यूजर्स का पर्सनल डेटा खतरे में! जेटको का बड़ा खुलासा

Must Read


न्यूयॉर्क
ट्विटर के पूर्व सुरक्षा प्रमुख पीटर एम जेटको ने अमेरिकी संसद के समक्ष कंपनी को लेकर कई बड़े खुलासे किए। उन्होंने संसद को बताया कि, ट्विटर के पेरोल पर चीन की खुफिया विभाग से कम से कम एक एजेंट काम कर रहा था। उन्होंने कहा कि, कंपनी ने जानबूझकर भारत को कंपनी रोस्टर में एजेंटों को जोड़ने की अनुमति दी। उन्होंने आरोप लगाया कि, संभावित तौर से कंपनी ने ऐसा करके उन देशों को यूजर्स के संवेदनशील डेटा तक पहुंच प्रदान की।

व्हिसलब्लोअर जेटको का खुलासा बता दें कि, पीटर मुज जेटको एक सम्मानित साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ हैं। उन्होंने ट्विटर छोड़ने के बाद कंपनी को एक व्हिसलब्लोअर के तौर पर कंपनी के बारे में कई बड़े खुलासे किए हैं। मंगलवार को उन्होंने अमेरिकी संसद में सीनेट की न्यायिक समिति के समक्ष आरोपों पर अपनी गवाही देने के लिए पेश हुए थे।

 ट्विटर के खिलाफ क्या बातें कहीं जेटको ने?
 खबर के मुताबिक, व्हिसलब्लोअर जेटको ने आरोप लगाया कि, कंपनी में कम से कम एक चीनी एजेंट काम कर रहा है। चीन की सरकार ने अपनी खुफिया एजेंसी के कम से कम एक एजेंट को ट्विटर कर्मचारी के तौर पर शामिल किया हुआ है। खबरों की मानें तो ट्विटर से साइबर सुरक्षा से जुड़े कई गंभीर खतरे उत्पन्न हो सकते हैं। यह एक ऐसा खतरा है जिसके जरिए चीनी एजेंट जो कंपनी में एक कर्मचारी के तौर पर काम कर रहा है, वह यूजर का डेटा कभी भी हैक कर सकता है।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

श्रीलंका व इंग्लैंड की टीम पहुंची रायपुर, आज करेंगे अभ्यास

रायपुररोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज के मैच खेलने के लिए श्रीलंका लीजेंड और इंग्लैंड लीजेंड्स की टीम रविवार को...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In