भारत में 24 घंटे में कोविड के 5,554 नए केस सामने आए

Must Read


नई दिल्ली
पिछले 24 घंटों में मिले कोरोना के 5554 नए मरीज ₹236.78 Janta Se Rishta Admin 10 Sep 2022 10:00 AM पिछले 24 घंटों में मिले कोरोना के 5554 नए मरीज x दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 5,554 नए केस सामने आए हैं. इसके साथ ही इसी अवधि में कोरोना से 6,322 लोग ठीक हुए हैं. अब देश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव केस 48,850 हो गए हैं. साथ ही प्रतिदिन की पॉजिटिविटी रेट 1.47 फीसदी हो गई है. बता दें कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए भारत में एक और हथियार तैयार हो गया है. दुनिया की पहली नेजल कोरोना वैक्सीन को भारत में इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है.

भारत में एक्टिव केस और नए मरीज
भारत का सक्रिय केसलोड(एक्टिव केस) वर्तमान में 48,850 है। सक्रिय मामले अब देश के कुल सकारात्मक मामलों का 0.11% हैं। नतीजतन, भारत की रिकवरी रेट 98.70% है। पिछले 24 घंटों में 6,322 मरीज ठीक हुए हैं। इस तरह ठीक हुए मरीजों की संख्या (महामारी की शुरुआत के बाद से) अब 4,39,13,294 हो गई है। पिछले 24 घंटे में 5,554 नए मामले सामने आए हैं।

भारत में कोरोना टेस्टिंग और पॉजिटिविटी
पिछले 24 घंटों में 3,76,855 COVID-19 टेस्ट किए गए। भारत ने अब तक 88.90 करोड़ (88,90,87,642) परीक्षण किए हैं। देश में वीकली पॉजिटिविटी रेट वर्तमान में 1.80% है और डेली पॉजिटिविटी रेट 1.47% बताई गई है।

राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों के पास 4.77 करोड़ से अधिक वैक्सीन मौजूद
केंद्र सरकार के माध्यम से अब तक राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों को 202.43 करोड़ (2,02,43,47,325) से अधिक वैक्सीन डोज दी जा चुकी हैं। भारत का मुफ्त चैनल और सीधे राज्य खरीद कैटेगरी के माध्यम से यह सप्लाई कर रहा है। 4.77 करोड़ से अधिक (4,77,33,880) बचीं और बिना इस्तेमाल COVID वैक्सीन उोज अभी भी राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों के पास उपलब्ध हैं, जिन्हें लगाया जाना है।

DCGI ने भारत बायोटेक की इंट्रा नेजल कोविड वैक्सीन (Intranasal Covid vaccine) को आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. यह वैक्सीन नाक के जरिए स्प्रै करके दी जाती है, मतलब वैक्सीन लेने वाले की बांह पर टीका नहीं लगाया जाता. इसकी दो खुराक दी जाती हैं. भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने मंगलवार को इंट्रा नेजल कोविड वैक्सीन को 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए मंजूरी दी है. भारत बायोटेक की इस वैक्सीन का नाम BBV154 है. हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक ने नेजल वैक्सीन का 4 हजार वॉलिंटियर्स पर क्लीनिकल ट्रायल किया है. इनमें से किसी पर इसका कोई साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिला है. अगस्त महीने में तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के बाद साफ हो गया था कि BBV154 वैक्सीन इस्तेमाल के लिए सुरक्षित है. BBV154 के बारे में भारत बायोटेक ने बताया है कि इस वैक्सीन को नाक के जरिए दिया जाता है. यह भी कहा गया है कि यह वैक्सीन किफायती है जो कि कम और मध्यम आय वाले देशों के लिए ठीक रहेगी. बताया गया है कि यह वैक्सीन इंफेक्शन और संक्रमण को कम करेगी.
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

संकेत साहित्य समिति का स्थापना दिवस मनाया गया

रायपुरसंकेत साहित्य समिति का इकतालीसवाँ स्थापना दिवस बैस भवनमें रविशंकर विश्व विद्यालय के कुलपति प्रो. केशरी लाल वर्मा...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In