कांग्रेस की ‘महंगाई पर हल्ला बोल’ रैली, दिल्ली के रामलीला मौदान में मोदी सरकार को घेरने की तैयारी

Must Read


नई दिल्ली
कांग्रेस आज दिल्ली के रामलीला मैदान में महंगाई, बेरोजगारी और आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी में बढ़ोतरी को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करने के लिए तैयार है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और अन्य नेता ‘मेहंगई पर हल्ला बोल’ रैली को संबोधित करेंगे। कांग्रेस की ये ‘हल्ला बोल’ रैली आज दिल्ली के रामलीला मैदान में होगी। इसमें देश के अन्य हिस्सों के अलावा दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के पार्टी कार्यकर्ता शामिल होंगे।
 
कांग्रेस की ‘हल्ला बोल’ रैली में प्रियंका गांधी नहीं होंगी शामिल
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा वर्तमान में इलाज के लिए देश से बाहर हैं और कार्यक्रमों में भाग नहीं लेंगी। राहुल गांधी मां सोनिया गांधी के साथ विदेश में थे लेकिन वो शनिवार को लौट आए हैं। दिल्ली पुलिस ने कहा कि विरोध को देखते हुए मध्य दिल्ली के रामलीला मैदान और उसके आसपास सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। दिल्ली पुलिस ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्रैफिक एडवाइजरी जारी कर यात्रियों को रविवार कई रास्तों से ना जाने की सलाह दी है।
 
जानें रैली की वजह से कौन-कौन से रास्तें रहेंगे बंद
यात्रियों को कुछ हिस्सों से बचने की सलाह दी जो रैली के कारण बंद रहेंगे। रणजीत सिंह फ्लाईओवर बाराखंभा रोड से गुरु नानक चौक, विवेकानंद मार्ग (दोनों तरफ), जेएलएन मार्ग (दिल्ली गेट से गुरु नानक चौक), कमला मार्केट के आसपास गुरु नानक चौक, चमन लाल मार्ग, अजमेरी गेट से आसफ अली रोड और डीडीयू तक रास्ते बंद रहेंगे। इसके अलावा कमला मार्केट की ओर मिंटो रोड रेड लाइट प्वाइंट बंद रहेगा।
 
7 सितंबर से कांग्रेस की “भारत जोड़ो यात्रा” होगी शुरू
कांग्रेस 7 सितंबर से कन्याकुमारी से कश्मीर तक विपक्षी पार्टी की 3,500 किलोमीटर की “भारत जोड़ो यात्रा” से पहले हो रही है। 7 सितंबर को होने वाली रैली में राहुल गांधी देश भर में चलकर बेरोजगारी के मुद्दों को उजागर करेंगे और सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देंगे। “भारत जोड़ो यात्रा” कांग्रेस पार्टी का अब तक का सबसे बड़ा जनसंपर्क कार्यक्रम है, जहां पार्टी के नेता जमीनी स्तर पर आम लोगों तक पहुंचेंगे। कांग्रेस महंगाई और बेरोजगारी को लेकर सरकार पर हमला करती रही है और कहती रही है कि ये आम लोगों के मुद्दे हैं और इस पर सभी मंचों पर चर्चा होनी चाहिए। कांग्रेस जीएसटी में वृद्धि के अलावा मूल्य वृद्धि, मुद्रास्फीति और बेरोजगारी की समस्याओं के समाधान की भी मांग कर रही है। रविवार को कांग्रेस के पूर्व नेता गुलाम नबी आजाद भी जम्मू के सैनिक फार्म में पार्टी छोड़ने के बाद अपनी पहली जनसभा को संबोधित करने वाले हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

PAK के साथ बातचीत करने से अमित शाह ने किया इनकार, बोले- नहीं बर्दाश्त करेंगे आतंकवाद

बारामूलाकेंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In