राजस्थान में भारी बारिश के चलते दो दिन के लिये सभी स्कूलों में अवकाश घोषित

Must Read


जयपुर
राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) और बारां के अलावा आसपास के कई इलाकों में पिछले कई घंटे में हुई भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात हैं। राजस्थान में राज्य के कई इलाकों में हो रही लगातार बारिश के बाद हालात बिगड़ने लगे हैं। मौसम विभाग ने कई जगहों पर अगले तीन दिन भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की है। बारिश को देखते हुए बारां प्रशासन ने तो जिले में सभी स्कूलों को बंद कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि कोटा में बैराज से छोड़े गए पानी के कारण निचले इलाके पानी में डूब गए हैं। बैराज से अब तक 2.76 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जा चुका है। बूंदी और कोटा जिलों में भारी बारिश के कारण सभी स्कूल और अन्य शैक्षणिक संस्थान दो दिनों के लिए बंद रहेंगे।

मालूम हो कि बारिश के चलते नदी और नाले उफान पर हैं। ऐसे में बच्चों को स्कूल आने-जाने में दिक्कत होने के साथ ही हादसा होने की भी संभावना है। जिसको देखते हुए जिला प्रशासन ने 23 और 24 अगस्त को जिले के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी है।  मालूम हो कि मौसम विभाग ने कोटा संभाग के बारां, झालावाड़ और उदयपुर संभाग के प्रतापगढ़ में भारी बारिश की चेतावनी दी है। वहीं कोटा, बूंदी, बांसवाड़ा, चित्तौड़, डूंगरपुर, सवाईमाधोपुर, सीकर, टोंक और उदयपुर में भी भारी बारिश की चेतावनी है।

कोटा जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा कि राणा प्रताप सागर बांध (चित्तौड़गढ़) और जवाहर सागर बांध (कोटा) के जलग्रहण क्षेत्र में बारिश के कारण चंबल नदी पर कोटा बैराज में पानी का प्रवाह बढ़ गया है। 19 में से 13 गेट कल रात पानी छोड़ने के लिए खोले गए और सोमवार को एक और गेट खोला गया। गेट खोलने से पहले अलर्ट कर दिया गया था। जब से पानी छोड़ा गया है, कई निचले इलाके पानी में डूब गए हैं। चूंकि जलस्तर बढ़ रहा है, इसलिए और गेट खोले जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

संकेत साहित्य समिति का स्थापना दिवस मनाया गया

रायपुरसंकेत साहित्य समिति का इकतालीसवाँ स्थापना दिवस बैस भवनमें रविशंकर विश्व विद्यालय के कुलपति प्रो. केशरी लाल वर्मा...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In