पहले बधाई दी फिर सरकार को चेतावनी, सोनिया गांधी के संदेश में छिपे कई संकेत

Must Read


 नई दिल्ली
 
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भारतवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। साथ ही उन्होंने इस दौरान सरकार पर भी स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के अपमान के आरोप लगाए हैं। उनका कहना है कि कांग्रेस राजनैतिक लाभ के लिए की जा रही गलत बयानबाजी का विरोध करेगी। खास बात है कि सोनिया कोरोनावायरस के चलते आइसोलेशन में हैं। कांग्रेस प्रमुख ने लिखा, ‘पिछले 75 साल में भारत ने अपने प्रतिभाशाली भारतवासियों की कड़ी मेहनत के बल पर विज्ञान, शिक्षा, स्वास्थ्य और सूचना प्रौद्योगिकी सहित सभी क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय पटल पर एक मिट छाप छोड़ी है। भारत ने अपने दूरदर्शी नेताओं के नेतृत्व में एक ओर जहां स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी चुनाव व्यवस्था स्थापित की, वहीं प्रजातंत्र और संवैधानिक संस्थाओं को मजबूत बनाया। इसके साथ-साथ भारत ने भाषा धर्म संप्रदाय की बहुलतावादी कसौटी पर सदैव खरा उतरने वाले एक अग्रणी देश के रूप में अपनी गौरवपूर्व पहचान बनाई है।’
 

सरकार पर कसा तंज
सोनिया ने लिखा, ‘साथियों, हमने बीते 75 वर्षों में हमने अनेक उपलब्धियां हासिल की, लेकिन आज की आत्ममुग्ध सरकार हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के महान बलिदानों और देश की गौरवशाली उपलब्धियों को तुच्छ करने पर तुली हुई है, जिसे कदापी स्वीकार नहीं किया जा सकता है। राजनैतिक लाफ के लिए ऐतिहासिक तथ्यों पर कोई भी गलत बयानी तथा गांधी नेहरी पटेल आजाद जी जैसे महान राष्ट्रीय नेताओं को असत्यता के आधार पर कटघरे में खड़े करने के हर प्रयास का भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पुरजोर विरोध करेगी।’

कांग्रेस मुख्यालय पर कौन फहराएगा तिरंगा?
सोनिया और राहुल गांधी कोरोना के चलते आइसोलेशन में हैं। वहीं, राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी कोविड का सामना कर रहे हैं। अब सवाल है कि कांग्रेस मुख्यालय में तिरंगा कौन फहराएगा। दरअसल, साल 2020 में इन दोनों नेताओं की गैर मौजूदगी में एके एंटनी ने कांग्रेस के स्थापना दिवस पर पार्टी का झंडा फहराया था। फिलहाल, वह भी केरल में हैं।

पीएम ने भी बगैर नाम लिए भ्रष्टाचारियों पर उठाए सवाल
लाल किले से संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार करने वालों पर सवाल उठाए थे। हालांकि, उन्होंने इस दौरान किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन इसके तार बिहार से लेकर महाराष्ट्र और दिल्ली से पश्चिम बंगाल तक से जोड़कर देखे जा रहा हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे करेंगे एक और खेला? उद्धव के सबसे भरोसेमंद छोड़ सकते हैं शिवसेना

 मुंबई।  महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In