बीएसपी में सुरक्षित परिचालन हेतु कार्यशाला का आयोजन

Must Read


भिलाई

सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र में मोबाइल क्रेन से कार्य करते समय सड़क एवं वर्क सेफ्टी बढ़ाने के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विभिन्न मटेरियल हैंडलिंग गतिविधियों के लिए संयंत्र में मोबाइल क्रेन का उपयोग किया जाता हैं। ये क्रेन हेवी लोड को संभालते हैं तथा मटेरियल हैंडलिंग की जरूरतों के अनुसार सामग्री को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने काम करते हैं।

सीएफटी बैठकों में चर्चा के दौरान रेल और रोड क्रॉस फंक्शनल टीम के प्रमुख कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) श्री ए के भट्टा ने संयंत्र में सुरक्षा सुनिश्चित करने और मोबाइल क्रेन के लिए सुरक्षित परिचालन हेतु जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से इस तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रम के आयोजन की आवश्यकता महसूस की। तदनुसार, महाप्रबंधक (प्लांट गैराज) श्री आर बी गहरवार के नेतृत्व में प्लांट गैरेज द्वारा मोबाइल क्रेन पर एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया है। प्रशिक्षण कार्यक्रम में आॅपरेटरों को अनिवार्य सुरक्षा प्रक्रियाओं की प्रभावी समझ प्रदान करने के लिए प्रशिक्षण मॉड्यूल में क्या करें और क्या न करें पर व्यावहारिक प्रशिक्षण दिया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम का उदघाटन कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) श्री ए के भट्टा द्वारा मानव संसाधन विकास विभाग के ट्रेनिंग हॉल में मुख्य महाप्रबंधक (मैकेनिकल) श्री एस के गजभिये, मुख्य महाप्रबंधक (एचआरडी एवं बीई) श्री संजय धर और कार्यवाहक मुख्य महाप्रबंधक (सुरक्षा और अग्निशमन सेवाएं) श्री जी पी सिंह की उपस्थिति में किया गया। इस अवसर पर उपस्थित सभी अतिथियों ने इस पहल की प्रशंसा करते हुए आॅपरेटरों द्वारा सतर्क और सुरक्षित काम करने हेतु इसकी तत्काल आवश्यकता पर जोर दिया।

इस अवसर पर कार्यपालक निदेशक (सामग्री प्रबंधन) श्री ए के भट्टा द्वारा मोबाइल क्रेन के सुरक्षित उपयोग हेतु क्या करें और क्या न करें की आसान पहुंच के लिए क्यूआर कोड का भी अनावरण किया गया। यह सुविधा विशेष रूप से भिलाई इस्पात संयंत्र में लागू किया गया है। भिलाई इस्पात संयंत्र में कार्यरत सभी मोबाइल क्रेनों/फाउलरों के कार्यालयों में क्यूआर कोड चिपकाया जाएगा। इस क्यूआर कोड को मोबाईल में स्कैन करने से इसमें लिखित सामग्री को देखा जा सकता है।
इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से मोबाइल क्रेन के संचालन में शामिल 22 आॅपरेटरों को लाभ हुआ है जिनमें नियमित और ठेका श्रमिक भी शामिल हैं। भिलाई इस्पात संयंत्र में मोबाइल क्रेन के साथ काम करने वाले सभी आॅपरेटरों को प्रषिक्षित करने के उद्देश्य से निकट भविष्य में इस तरह के कार्यक्रम के आयोजन की योजना बनाई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

संकेत साहित्य समिति का स्थापना दिवस मनाया गया

रायपुरसंकेत साहित्य समिति का इकतालीसवाँ स्थापना दिवस बैस भवनमें रविशंकर विश्व विद्यालय के कुलपति प्रो. केशरी लाल वर्मा...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In