दिल्ली-पंजाब और हरियाणा की तरफ शिफ्ट हो रहा मॉनसून, बिहार-UP में भी होगी बारिश

Must Read


 नई दिल्ली
 
पूरी तरह मॉनसून के दस्तक के बावजूद भी देश के कई हिस्सों में अभी भी मिलीजुली बरसात देखने को मिली है। हालांकि मौसम विभाग के मुताबिक कुछ राज्यों को छोड़कर बाकी जगहों पर अच्छी बारिश हो रही है। एक तरफ जहां राजधानी दिल्ली में मई-जून के महीने में भीषण गर्मी के बाद मॉनसून की बारिश से राहत मिली है। तो वहीं कुछ राज्यों में आने वाले समय में भी अच्छी बारिश की उम्मीद है। पंजाब, हरीयाणा, जम्मू कश्मीर समेत कई राज्यों में इसी सप्ताह तेज बारिश होगी।

दरअसल, मौसम विभाग ने बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में बारिश की संभावना जताई है। अपडेट में बताया गया कि दिल्ली समेत पूरे एनसीआर में इस पूरे हफ्ते गर्मी से राहत मिलने की संभावना है। मॉनसून ट्रफ के उत्तर की ओर शिफ्ट होने के कारण 27 जुलाई से उत्तर भारत में बारिश की गतिविधियों में वृद्धि होने की संभावना है। कम दबाव का क्षेत्र बनने से मॉनसून की ट्रफ अपनी सामान्य स्थिति से दक्षिण की ओर चल रही थी, लेकिन बुधवार से इसके उत्तर की ओर शिफ्ट होने की संभावना है। उधर हरियाणा के कुछ जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। पहाड़ी राज्य उत्तराखंड मे अगले पांच दिनों के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। राजस्थान में मूसलाधार बारिश अभी भी जारी है और आगे भी जारी रहेगी। मध्यप्रदेश में भी स्थिति लगातार बारिश की बनी हुई है। इन दोनों राज्यों में तो लगातार भारी बारिश के कारण तमाम जिलों के कई इलाकों में जलभराव हो गया है।

गुजरात में पहले से ही बारिश परेशानी का सबब बन चुका है। मॉनसून के शुरुआती चरण से ही यहां हो रही लगातार बारिश की वजह से किसान भी परेशान हैं। खेतों में पानी भर गया है। हालांकि बीते दो तीन दिनों कुछ जिलों में थोड़ी राहत जरूर आई है। अहमदाबाद जैसे शहरों में तो ऐसा लग रहा था जैसे गर यही स्थिति बनी रही तो निचले इलाकों में जलभराव के चलते नाव का सहारा लेना पड़ेगा।

इधर यूपी बिहार की स्थिति में थोड़ा बदलाव जरूर हुआ है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बादल छाए हुए हैं। मौसम विभाग के अनुसार तेज बारिश का अनुमान है। बिहार में पिछले कुछ दिनों से हो रही झमाझम बारिश पर ब्रेक लगने लगा है। मौसम के कमजोर पड़ने के कारण राज्य के अधिकतर हिस्सों में झमाझम बारिश पर ब्रेक लग गई है। 28 जुलाई से दोबारा मॉनसून एक्टिव होने की संभावना है। इसके अलावा झारखंड में अभी भी भरपूर बारिश का मजा किसानों को नहीं मिला है।

उधर असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना जताई गई है। 26 से 30 जुलाईके दौरान उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश और बिजली के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

विभाग ने यह भी बताया है कि दक्षिण कर्नाटक, 29-30 तारीख को केरल में, 26-30 के दौरान तमिलनाडु में, पुडुचेरी और तेलंगाना में भी भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। वहीं विदर्भ और मध्य प्रदेश में भारी बारिश की संभावना पहले से ही है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले कुछ दिनों में मानसून उत्तर में शिफ्ट हो सकता है। इसके बाद उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में पर्याप्त बारिश होने की संभावना है। विभाग का कहना है कि अरब सागर के पूर्वोत्तर और पश्चिमोत्तर में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इस वजह से उत्तर भारत में अच्छी बारिश हो सकती है। 28 जुलाई से हिमालयी क्षेत्र में नया पश्चिमी विक्षोभी भी बन सकता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

स्पीच थेरेपी सेंटर दिव्यांग बच्चों के अभिभावकों की काउंसलिंग

रायपुर छत्तीसगढ़ राज्य बाल कल्याण परिषद द्वारा संचालित मूक एवं बधिर दिव्यांग बच्चों के लिए स्पीच थेरेपी सेंटर में...

More Articles

Home
Install
E-Paper
Log-In